कठरिया सन्देश

१९ फाल्गुन २०८०, शनिबार

  • gold Teach Computer
    gold Teach Computer
  • माघी

    माघी
    Spread the love

    पुष के अन्त सङ्घे माघ महिना घर घर आइल
    खुसी आउ बाहर के तरंग गाउँ गाउँ में है छाइल

    थारुन नमा साल ई जाडमें फेकुन गरमी बढाइल
    चारो घैन हे उमङ्ग पूरा थारुवान है जगमगाइल

    देश दुनियाँमें चर्चा है की नेपाल में माघी है आइल
    चारों ओर माघिक मघौटा, सखिया नाँच नचाइल

    खूब मारत हैं सोरक जीता हराभरा खेत खलियान
    आइल हैं दिदी बहिनी माघ माने करीहे खोर लहान

    बनी हर घरमें नमा नमा एक से एक मजा पकवान
    सब दिदी बहिनिन खुसी देख लागि अंग्ना सुहावन

    कुइ सम्झी आँखलग्ना कुइ करी आँखलाग्निय याद
    अब तौ तनहाई काहीक उराइ जाइ कुछ दिनके बाद

    माघअक्कले मनाईक परी तौ इ मन फेक होई निरास
    सब ओर होई खुसी रही तौ इ मन में काहीक उदास

    माघ के मजा लेउ मनाओं खुसी हुईके हरसोउल्लास
    चारो घैंन उत्सव के माहौल है जीयो तुम अबबिन्दास

    अर्जुन कठरिया
    पहलमानपुर, कैलाली

    सुचना तथा संचार मन्त्रालय,
    दर्ता नं. : 071/72/770,
    पान नं.: 6026465656565656565

    ब्यवस्थापक :- अर्जुन कठरिया

    प्रकाशक :- राजेन्द्र कठरिया

    प्रधान सम्पादक :- टिआर कठरिया

    © 2024 Copyright: Dahit Group PVT.LTD