कठरिया सन्देश

२० फाल्गुन २०८०, आईतवार

  • gold Teach Computer
    gold Teach Computer
  • घोडाघोडी ताल संरक्षणके दायित्व सबका है : मुख्यमन्त्री भट्ट

    घोडाघोडी ताल संरक्षणके दायित्व सबका है : मुख्यमन्त्री भट्ट
    Spread the love

    पहलमानपुर, २७ फागुन ।। सुदूरपश्चिमके मुख्यमन्त्री त्रिलोचन भट्ट घोडाघोडी ताल संरक्षणके दायित्व सबका रहल बतैले हैं । कैलाली जिल्लाके घोडाघोडीमे आज आयोजित घोडाघोडी बर्ड सेन्चुरी (चरा अभय आरण्य क्षेत्र) घोषण कार्यक्रममे ऊ घोडाघोडीके धार्मिक आउ प्राकृतिक ऐतिहासिकता बचैना करके सबकुई संरक्षण करना आवश्यक रहल बतैनें ।

    मुख्यमन्त्री भट्ट घोषणा करके केल नाई हुइना कहती विश्व रामसार क्षेत्रमे सुचिकृत कैलालीके घोडाघोडी सिमसार संरक्षण करना सबका दायित्व रहल बतैनें । घोडाघोडी धार्मिक आउ प्राकृतिक पर्यटनके दृष्टिती महत्वपुर्ण क्षेत्र रहलके मारे यहका ऐतिहासिकता बचैना करके संरक्षण करना आवश्यकता रहल उनका कहाई रेहे ।

    घोडाघोडी सिमसार ओहके नेपालके पहिला बर्ड सेन्चुरी घोषणाती चिरै संरक्षण आउ पर्यटन विकासमे जोड पुग्ना विश्वास ऊ ब्यक्त करने । घोडाघोडी नगरपालिका मातहतके बृहत घोडाघोडी ताल तथा पर्यटन विकास बोर्डती घोडाघोडी ताल सहितके घोडाघोडी सिमसार क्षेत्र ओहके बर्ड सेन्चुरी घोषणा करल है ।

    प्रदेश सरकारके कानुनके भित्तर रैहके बर्ड सेन्चुरी घोषणा करल आयोजकके कहाई है । विश्व रामसार क्षेत्रमे सूचिकृत घोडाघोडी सिमसारमे ३६० मेलके चिरैं मिल्तीयाँ ।

    सुचना तथा संचार मन्त्रालय,
    दर्ता नं. : 071/72/770,
    पान नं.: 6026465656565656565

    ब्यवस्थापक :- अर्जुन कठरिया

    प्रकाशक :- राजेन्द्र कठरिया

    प्रधान सम्पादक :- टिआर कठरिया

    © 2024 Copyright: Dahit Group PVT.LTD